गाया है Lata, Shabbir Kumar ने। लिखा है Gulzar ने। गीतायन पर खोजें

असल में

zihaal-e-miskin, makun-baranjish, bahaal-e-hijaraa bechaaraa dil hai

Devendra Prabhune ने जैसा सुना/समझा
zihaal-e-miskin, makun-baranjish, *BAHAAR-E-HIJADA* bechaaraa dil hai

बकौल Devendra Prabhune,
Hijada- Eunuch
मज़ेदार है!
अरे! मैंने भी यही समझा था!


चर्चा

आपकी बात

आपका नाम

1 + 2 =


सर्वाधिकार सुरक्षित © 2005 विनय जैन