गाया है Rafi ने। लिखा है Sahir ने। गीतायन पर खोजें

असल में

utanaa hii upakaar samajh koii jitanaa saath nibhaa de
janm maraN kaa mel hai sapanaa, ye sapanaa bisaraa de

Gopi ने जैसा सुना/समझा
... ye sapanaa *bhii phiraa* de

मज़ेदार है!
2 और ने यही समझा - मैंने भी!


चर्चा

आपकी बात

आपका नाम

6 + 0 =


सर्वाधिकार सुरक्षित © 2005 विनय जैन