गाया है Lata ने। लिखा है Gulzar ने। गीतायन पर खोजें

असल में

sochaa thaa may hai zi.ndagi aur zindagi kii may
pyaalaa haTaa ke terii hathelii se piye.nge

v9y ने जैसा सुना/समझा
sochaa thaa may hai zi.ndagi aur zindagi *thii mai.n*
pyaalaa haTaa ke terii hathelii se piye.nge

मज़ेदार है!
अरे! मैंने भी यही समझा था!


चर्चा

आपकी बात

आपका नाम

8 + 8 =


सर्वाधिकार सुरक्षित © 2005 विनय जैन