गाया है जगजीत सिंह ने। लिखा है सुदर्शन फ़ाकिर ने। गीतायन पर खोजें

असल में

सब जीता किए मुझसे
हम हरदम ही हारे

Viaa ने जैसा सुना/समझा
सब *जी तकिये* मुझसे
हम हरदम ही हारे

1 की पसंद - मेरी भी!
1 और ने यही समझा - मैंने भी!


चर्चा

vikas ने लिखा,

असल में
सब जीता किये मुझसे
'मैं ' हरदम ही हारा

आपकी बात

आपका नाम

8 + 4 =


सर्वाधिकार सुरक्षित © 2005 विनय जैन