गाया है Vishal Bhardwaj ने। लिखा है Vishal Bhardwaj ने। गीतायन पर खोजें

असल में

एक बार तो यूँ होगा, थोड़ा सा सुकूँ होगा
ना दिल में कसक होगी, ना सर में जुनूँ होगा

Prakash Deshpande ने जैसा सुना/समझा
एक बार तो यूँ होगा, थोड़ा सा सुकूँ होगा
ना दिल में कसक होगी, ना सर में *जूँ* होगा

बकौल Prakash Deshpande,
Read it at one of the comments on facebook for song posting...
2 की पसंद - मेरी भी!
अरे! मैंने भी यही समझा था!


चर्चा

आपकी बात

आपका नाम

5 + 0 =


सर्वाधिकार सुरक्षित © 2005 विनय जैन